APJ Abdul Kalam in Hindi Biography | ए. पी. जे. अब्दुल कलाम जीवन परिचय

apj abdul kalam in hindi
apj abdul kalam in hindi

ए. पी. जे. अब्दुल कलाम जीवन परिचय – APJ Abdul Kalam in Hindi Biography & Quote में हम अब्दुल कलाम जी के  जीवन काल और उनके आदर्शो , उनके विचारो पर प्रकाश डालेंगे | आप इनकी लिखी  बायोग्राफी किताब विंग्स आफ फायर खरीद सकते है  ।…q? encoding=UTF8&ASIN=B0847V9BYD&Format= SL160 &ID=AsinImage&MarketPlace=IN&ServiceVersion=20070822&WS=1&tag=kmp004 21&language=en IN apj abdul kalam in hindiir?t=kmp004 21&language=en IN&l=li2&o=31&a=B0847V9BYD apj abdul kalam in hindi

जीवन परिचय | APJ Abdul Kalam in Hindi Biography

‘सोते हुए नींद में तो सपना हर कोई देखता है,परन्तु सपना उनका ही साकार होता है, जिनकी आखों में उन सपनो के लिए नींद न हो “| 

हम बात कर रहे है ,ऐसी ही  सोच रखने वाले भारत के 11वें राष्ट्रपति और भारत के मिसाइल मैन अवुल पकिर जैनुलाअबदीन ( एपीजे अब्दुल कलाम )  की |

apj abdul kalam in hindi
APJ Abdul Kalam in Hindi Biography

ए पी जे अब्दुल कलाम एक एयरोस्पेस वैज्ञानिक थे | जो इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (मद्रास ) से स्नातक करने के बाद भारत के रक्षा विभाग में शामिल हो गए। 1998 में सफल परमाणु परीक्षणों के बाद भारत के राष्ट्रीय नायक के रूप में प्रसिद्ध हो गए | 2002 से 2007 तक भारत के सर्वोच्च पद ( राष्ट्रपति पद ) की गरिमा बढ़ाई | 27 जुलाई 2015 को दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हो गई।

अब्दुल पाकिर जैनुलआब्दीन अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 ई० और मृत्यु 27 जुलाई 2015 को हुई थी |

 इन्हें लोग मिसाइल मैन और जनता के राष्ट्रपति के नाम से जानते है|  स्वतंत्र भारत के 11 वें राष्ट्रपति के रूप में उनका निर्वाचन हुआ था |भारत के मिसाइल मैन के नाम से मशहूर अब्दुल कलाम जी एक महान वैज्ञानिक और साथ ही साथ भारत के सबसे लोकप्रिय राष्ट्रपति थे |यह युवा पीढ़ी के लिए एक मिशाल थे, और आगे भी उनके दिखाए रास्ते पर चल कर युवा पीढी भारत को विश्व गुरु बनाने में अहम् योगदान दे सकते है | कलाम जी  के जीवन से आज के युवा पीढ़ियों को बहुत कुछ सीखने को मिलता है ,आइए हम नजर डालते हैं उनके जीवन परिचय और उनकी उपलब्धियों पर आज की युवा पीढ़ी और क्या लिख सकती है |

एपीजे अब्दुल कलाम का जन्म तमिलनाडु के रामेश्वरम में एक साधारण मुस्लिम परिवार से सम्बन्ध रखते थे | ए पी जे अब्दुल कलाम का पूरा नाम अब्दुल पाकिर जैनुलआब्दीन अब्दुल कलाम  है |

इनके पिता का नाम जैनुलाब्दीन और माताजी का नाम अशिअम्मा था | इनके पिता जी मछुआरों को नाव किराए पर मुहैया कराया करते थे |परिवार के सदस्यों का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि इनके कुल पांच भाई एवं पांच बहने थी |

अब्दुल कलाम जी के जीवन में इनका के पिताजी का अहम योगदान रहा है इनके पिताजी पढ़े-लिखे नहीं थे| परंतु अब्दुल कलाम को हमेशा ही प्रोत्साहित करते रहते थे |इनके पिताजी ने अब्दुल कलाम को सामाजिक शिक्षा का पाठ पढ़ाते रहते थे|  जिससे इनके जीवन पर विशेष प्रभाव पड़ा इसका ही परिणाम रहा कि यह  भारत के सबसे ईमानदार राजनेताओं की सूची में शिखर पर स्थान प्राप्त किया है |

अब्दुल कलाम जी का बचपन बड़ा ही कस्टमय और संघर्ष पूर्ण था |  इनके परिवार में हमेसा ही छोटी बड़ी समस्याएं आती रहती थी | कलाम जी के घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी | इसलिए कलाम जी ने निर्णय लिया कि वह  परिवार के पालन पोषण के लिए अपने पिताजी को मदद करेंगे |इसलिए उन्होंने सुबह-सुबह अखबार डालने का कार्य प्रारंभ कर दिया |  जिससे उनको कुछ आर्थिक मदद होने लगी |इन्हें बचपन से ही पढ़ाई लिखाई का बहुत शौक था  | शुरुआती दिनों में यह  एक औसत दर्जे के विद्यार्थी थे | परंतु दिन प्रतिदिन इनकी पढ़ने में रुचि बढ़ती गई |

यह  दिन प्रतिदिन नई-नई चीजें सीखने में इनकी रुचि बढ़ती गई | इसका परिणाम यह रहा कि इनके कठिन परिश्रम और लगन का फल यह रहा की यह भारत के मिसाइल मैन के नाम से मशहूर हुए |  भारत ने परमाणु बम का निर्माण किया जिसमें उनकी अहम भूमिका रही |

अब्दुल कलाम जी की शिक्षा और वैज्ञानिक योगदान

अब्दुल कलाम जी की प्रारंभिक शिक्षा तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुई | कलाम 1950 मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलजी से अंतरिक्ष विज्ञान में  स्नातक की डिग्री प्राप्त की |स्नातक होने के उपरांत इन्होंने हावरक्राफ्ट परियोजना पर काम करने के लिए भारतीय रक्षा अनुसंधान एवं विकास संस्थान में दाखिला लिया |1962 में यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में आये और यहां पर उन्होंने सफलतापूर्वक कई उपग्रह प्रक्षेपण कार्यक्रमों में अहम भूमिका निभाई|

भारत के पहले स्वदेशी उपग्रह प्रक्षेपण यान के निर्माण में इन्होंने परियोजना निदेशक के रूप में अहम योगदान दिया | जुलाई 1982 में रोहिणी उपग्रह को अंतरिक्ष में  सफलतापूर्वक प्रलम्बित किया |

वैज्ञानिक जीवन भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन से अब्दुल कलाम जी 1972 में जुड़े |  सबसे पहले अब्दुल कलाम जी को परियोजना महानिदेशक के रूप में भारत का पहला स्वदेशी उपग्रह प्रक्षेपास्त्र बनाने का श्रेय हासिल हुआ  |

1980 में रोहिणी उपग्रह को पृथ्वी की कक्षा के निकटतम स्थान पर इन्होंने स्थापित किया | इनके योगदान का परिणाम रहा कि भारत भी अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष क्लब का सदस्य बन गया|

कलाम जी की बड़ी उपलब्धि यह भी रही कि इन्होंने स्वदेशी गाइडेड मिसाइल का डिजाइनिंग किया| उन्होंने अग्नि  एवं पृथ्वी जैसे मिसाइलें को स्वदेशी तकनीक से बनाकर एक बड़ी उपलब्धि प्राप्त की थी |

कलाम जी 1992 जुलाई से 1999 दिसंबर तक रक्षा मंत्री के विज्ञान सलाहकार तथा सुरक्षा शोध के सचिव थे|इसी प्रकार पोखरण में दूसरा परमाणु परीक्षण भी परमाणु ऊर्जा के साथ मिलकर किया | इस परमाणु परीक्षण में भी उनका विशेष योगदान था |इसका परिणाम यह रहा कि भारत में परमाणु हथियार के निर्माण की क्षमता प्राप्त करने में सफलता प्राप्त की |

भारत के विकास का स्तर को कलाम जी की सोच थी कि भारत 2020 तक, भारत विज्ञान के क्षेत्र में अत्याधुनिक करने के लिए एक लक्ष्य रखा था|

राष्ट्रपति के रूप में भारत के  ए. पी. जे. अब्दुल कलाम( A.P.J. abdul kalam in hindi )

2002 को कलाम जी को भारत का राष्ट्रपति  चुना गया था|  इन्हें भारतीय जनता पार्टी और उनके सहयोगी दल एनडीए के घटक दलों ने अपना उम्मीदवार बनाया था|  जिनमें कुछ वाम दलों के साथ और छोटे बड़े दलों ने मिलकर इनका समर्थन किया था|इन्हे कुल 90% से अधिक बहुमत के कारण भारत के राष्ट्रपति के रूप में चुना गया|इन्हें 25 जुलाई 2002 को संसद भवन के अशोक कक्ष में राष्ट्रपति पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई |उनका कार्यकाल 25 जुलाई 2007 को समाप्त हुआ|  अब्दुल कलाम जी अपने व्यक्तिगत जीवन में बहुत ही अनुशासन प्रिय थे|

यह एक शाकाहारी व्यक्ति थे | उन्होंने अपने जीवन के बारे  में  विंग्स आफ फायर भारती युवाओं को मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए एक पुस्तक लिखी जो युवाओं में काफी प्रसिद्ध है|

इनकी दूसरी पुस्तक “गाइड इन सोशल डायलॉग ऑफ द परपज ऑफ लाइफ “अंदर के विचारों का खुलासा करती हैं |

अगर कहे  तो अब्दुल कलाम राजनीति के प्रतीक थे ही नहीं लेकिन इनके अंदर राष्ट्रवादी सोच और राष्ट्रपति बनने के बाद भारत के कल्याण से संबंधित नीतियों के कारण इनको का  काफी प्रसिद्धि मिली |उन्होंने अपनी पुस्तक इंडिया 2020 में अपने  दृष्टिकोण को स्पष्ट किया है  उनका सपना था कि भारत अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में दुनिया का सिरमौर राष्ट्र बने|

भारत के रक्षा के क्षेत्र में उन्होंने अनेकों बड़े काम किए यह चाहते थे कि भारत परमाणु हथियार के क्षेत्र में एक सुपर पावर बने इससे किसी के आगे कभी झुकना ना पड़े| विज्ञान और तकनीकी क्षेत्र में भारत को एक विशिष्ट स्थान दिलाना चाहते थे | उनका सपना था कि भारत की आने वाली पीढ़ियां सॉफ्टवेयर तकनीकी क्षेत्र में  सर्वोपरि हो यह समय-समय पर लोगों को प्रोत्साहित करते रहते थे|

अब्दुल कलाम के अनमोल विचार  ( APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts )

APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts-1

  • यदि यक्ति चार बातो का पालन करे तो कुछ भी हासिल कर सकता है -एक महान उद्देश्य, ज्ञान प्राप्त करना, कड़ी मेहनत और दृढ़ता
  •  If four things are followed – having a great aim, acquiring knowledge, hard work, and perseverance – then anything can be achieved. 

APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts- 2

  • भारत को अपनी छाया पर चलना चाहिए – हमारे पास अपना विकास मॉडल होना चाहिए।
  • India should walk on her own shadow – we must have our own development model.

APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts- 3

  • अर्थव्यवस्था ने मुझे शाकाहारी बनने के लिए मजबूर किया, लेकिन अंत में मैं इसे पसंद करने लगा|
  • Economy forced me to become a vegetarian, but I finally started liking it.

APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts- 4

  • राष्ट्र लोगों से मिलकर बनता है। और उनके प्रयास से, कोई राष्ट्र जो कुछ भी चाहता है उसे प्राप्त कर सकता है।
  • Nations consist of people. And with their effort, a nation can accomplish all it could ever want.

APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts- 5

  • कृत्रिम सुख की बजाये ठोस उपलब्धियां बनाने के लिए अधिक समर्पित रहें।
  • Be more dedicated to making solid achievements than in running after swift but synthetic happiness.

APJ Abdul Kalam in Hindi Thoughts- 6

  •  भगवान, हमारे निर्माता ने हमारे मष्तिष्क और व्यक्तित्व में असीम शक्तियां और क्षमताएं दी हैं। प्रार्थना हमें इन शक्तियों को विकसित करने में मदद करती है।
  • God, our Creator, has stored within our minds and personalities, great potential strength and ability. Prayer helps us tap and develop these powers.

पुरस्कार और सम्मान( A.P.J. abdul kalam in hindi )

राष्ट्र और समाज के लिए किये गए कार्यो के आधार पर इनको अनेको पुरस्कारों से सम्मानित किया गया| लगभग 40 से 45  विश्वविद्यालयों ने कलम जी को डॉक्टरेट की उपाधि दी |

भारत सरकार ने इन्हे भारत के सबसे बड़े नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से अलंकृत किया और इन्हे समय समय पर पद्म भूषण, पद्म विभूषण से भी नवाजा गया है |

आइये देखते है एपीजे अब्दुल कलाम  जी के कुछ पुरस्कार और सम्मान इस प्रकार से हैं

वर्ष

  • सम्मान
  •  संगठन / संस्थान
2014
  • डॉक्टर ऑफ साइंस
  • एडिनबर्ग विश्वविद्यालय
2012
  • डॉक्टर ऑफ़ लॉ ( मानद )
  • साइमन फ्रेजर विश्वविद्यालय
2010
  • डॉक्टर ऑफ़ इंजीनियरिंग
  • वाटरलू विश्वविद्यालय
2009
  • हूवर मेडल
  • ASME फाउंडेशन, संयुक्त राज्य अमेरिका
2009
  • अंतर्राष्ट्रीय करमन वॉन विंग्स पुरस्कार
  • कैलिफोर्निया प्रौद्योगिकी संस्थान , संयुक्त राज्य अमेरिका
2008
  • डॉक्टर ऑफ़ इंजीनियरिंग
  • नानयांग प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय , सिंगापुर
2007
  • साइंस की मानद डाक्टरेट
  • वॉल्वर हैम्प्टन विश्वविद्यालय , ब्रिटेन
1998
  • वीर सावरकर पुरस्कार
  • भारत सरकार
1997
  • राष्ट्रीय एकता के लिए इंदिरा गांधी पुरस्कार
  • भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
1997
  • भारत रत्न
  • भारत सरकार
1994
  • विशिष्ट फेलो
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ डायरेक्टर्स (भारत)
1990
  • पद्म विभूषण
  • भारत सरकार
1981
  • पद्म भूषण
  • भारत सरकार

ए. पी. जे. अब्दुल कलाम का निधन- A.P.J. abdul kalam in hindi

27 जुलाई 2015 को मेघालय के शिलांग में एक कार्यक्रम के दौरान इनका दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया|

आई आई एम में लेक्चर देते हुए कलाम साहब को अटैक आया | वह कुछ शब्द ही बोले थे कि उनकी जुबान लड़खड़ा ने लगी और वह गिर पड़े फिर उनके सहयोगियों सृजन पाल सिंह ने उन्हें उठाया और हॉस्पिटल लेकर गए पर हॉस्पिटल पहुंचते ही उनका निधन हो गया और डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर  दिया |

निष्कर्ष

अब्दुल कलाम जी के जीवन से हमें प्रेरणा मिलती है की जीवन में छोटी बड़ी लहरों हमेशा आती रहेंगी परन्तु उनका सामना किस प्रकार से करना है और अपने मानव जीवन को किस प्रकार से राष्ट्र के और समाज के लिए निःस्वार्थ भावना से कार्य किया जा सकता है | अब्दुल कलाम जी से युवा पीढ़ी को सिखने के लिए बहुत कुछ है | इनके जीवन और विचार  के विषय में जानकर हम नए सुसंस्कृत और आधुनिक समाज का निर्माण कर सकते है |

 

इन्हे भी पढ़े!

स्वामी विवेकानन्द जीवन परिचय 

महात्मा गाँधी जीवन परिचय 

इंदिरा गाँधी जीवन परिचय 

लाल बहादुर शास्त्री 

 

13 Trackbacks / Pingbacks

  1. खुद के बेटे के दाह संस्कार करने के लिए भी ले लिया था कर - राजा हरिश्चंद्र ( Satyavadi Raja Harishchandra )जीवन परिचय | -
  2. Lala Lajpat Rai Biography ,Quotes in Hindi 'पंजाब केसरी' लाला लाजपत राय जीवन परिचय | -
  3. Sarojini Naidu Biography in Hindi | सरोजिनी नायडू जीवन परिचय -
  4. Mahatma Gandhi in Hindi | महात्मा गांधी का जीवन परिचय - %
  5. IPL इतिहास के सबसे महंगे खिलाडी क्रिस मॉरिस की जीवनी | Biography of Chris Morris -
  6. 15 सितंबर को इंजीनियर दिवस क्यों मनाया जाता है? - PROUDHINDI.COM
  7. Mahatma Gandhi Essay in Hindi | महात्मा गाँधी निबंध - PROUDHINDI.COM
  8. Gautam Buddha in Hindi Biography | गौतम बुद्धा जीवनी - PROUDHINDI.COM
  9. Essay on APJ Abdul Kalam in Hindi | डॉ एपीजे अब्दुल कलाम पर निबंध - PROUDHINDI.COM
  10. अटल बिहारी वाजपेयी पर निबंध - PROUDHINDI.COM
  11. Essay on Indian Culture | भारतीय संस्कृति पर निबंध - PROUDHINDI.COM
  12. learn about meera bai in hindi | प्रिय कवियत्री - मीरा बाई - PROUDHINDI.COM
  13. Abdul kalam Biography in Hindi | डॉ एपीजे अब्दुल कलाम का प्रेरणादायी जीवन -

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*